loader
Foto

श्रीलंकाई PM से मिले मोदी, बोले- दोनों देशों ने आतंकवाद का डटकर मुकाबला किया...

श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे से मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आतंकवाद हमारे क्षेत्र में एक बहुत बड़ा खतरा है. हम दोनों देशों ने इस समस्या का डट कर मुकाबला किया है. ​पिछले साल अप्रैल में श्रीलंका में ईस्टर डे पर दर्दनाक और बर्बर आतंकी हमले हुए थे. ये हमले सिर्फ श्रीलंका पर ही नहीं, पूरी मानवता पर भी आघात थे.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज की बातचीत में हमने श्रीलंका में संयुक्त आर्थिक परियोजनाओं पर, और आपसी आर्थिक, व्यापारिक, और निवेश संबंधों को बढ़ाने पर भी विचार-विमर्श किया. हमने अपने पीपुल्स टू पीपुल्स संपर्क बढ़ाने, पर्यटन को प्रोत्साहन देने, और कनेक्टिविटी को बेहतर बनाने पर भी चर्चा की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि मुझे विश्वास है कि श्रीलंका सरकार यूनाइटेड श्रींलका के भीतर समानता, न्याय, शांति और सम्मान के लिए तमिल लोगों की अपेक्षाओं को साकार करेगी. श्रीलंका के विकास प्रयासों में भारत एक विश्वस्त भागीदार रहा है. पिछले साल घोषित नई लाइंस ऑफ क्रेडिट से हमारे विकास सहयोग को और अधिक बल मिलेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चाहे सुरक्षा हो या अर्थव्यवस्था या सामाजिक प्रगति, हर क्षेत्र में हमारा अतीत और हमारा भविष्य एक-दूसरे से जुड़ा हुआ है. ​श्रीलंका में स्थायित्व, सुरक्षा, और समृद्धि भारत के हित में तो है ही, पूरे हिन्द महासागर क्षेत्र के हित में भी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सबसे पहले तो मैं अपने मित्र महिंद राजपक्ष को प्रधानमंत्री बनने के लिए ह्रदय से बधाई देता हूं. पदभार संभालने के तुरंत बाद उन्होंने मेरा निमंत्रण स्वीकार किया और अपने पहले विदेश दौरे के लिए भारत को चुना. इसके लिए मैं उनका आभारी हूं. नवंबर 2019 में प्रधानमंत्री बनने के बाद महिंदा राजपक्षे का यह पहला भारत दौरा है.

Recent Posts