loader
Foto

ऑस्ट्रेलिया में फंसे भारतीयों को 21 मई से लाया जाएगा वापस, पहले फेज में 7 फ्लाइट

*  विदेश में फंसे भारतीयों की वापसी का मिशन जारी

*  ऑस्ट्रेलिया से कई फेज में लाए जाएंगे लोग

कोरोना वायरस के संकट काल में विदेश में फंसे भारतीयों के लिए सरकार के द्वारा अभियान चलाया जा रहा है. मिशन वंदे भारत के तहत सभी भारतीयों को लाया जा रहा है, इस बीच ऑस्ट्रेलिया में फंसे हुए भारतीयों को लाने के लिए कुल सात फ्लाइट जाएगी.

ऑस्ट्रेलिया में मौजूद भारतीय दूतावास के मुताबिक, 21 मई से सात स्पेशल फ्लाइट चलाई जाएंगी जो ऑस्ट्रेलिया में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाएगी. ये भारतीयों को निकालने का पहला फेज़ होगा, जो कि 21 से 28 मई तक चलेगा.

जारी नोटिफिकेशन के अनुसार, इसमें मरीजों, बुजुर्गों और वीज़ा खत्म होने वाले लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी. जिन यात्रियों को शॉर्ट लिस्ट किया जाएगा, अगर वो विमान के उड़ने से चौबीस घंटे पहले तक टिकट नहीं खरीद पाए तो किसी को भेज दिया जाएगा. टिकट का खर्च पैसेंजर्स को ही देना होगा.

आपको बता दें कि भारत सरकार ने विदेश में फंसे भारतीयों को निकालने का मिशन चलाया, इसके तहत गल्फ देशों के अलावा यूरोप और अमेरिका में फंसे लोगों को लाया जा रहा है. ये मिशन अलग-अलग फेज़ में चलाया जा रहा है, जिसके जरिए देश के अलग-अलग शहरों में लोगों को लाया जा रहा है.

सरकार की ओर से इसके लिए गाइडलाइन्स जारी की गई हैं, जिनका पालन हर किसी को करना होगा. अगर ऑस्ट्रेलिया की बात करें तो वहां करीब 90 हजार भारतीय स्टूडेंट्स पढ़ाई करते हैं, हजारों लोग इस संकट के बीच वापस आना चाहते हैं. ऑस्ट्रेलिया में अभी तक कोरोना वायरस की वजह से सात हजार लोग बीमार हैं, तो वहीं करीब सौ लोगों की मौत हो गई है.

Recent Posts